कान में कैसा भी हो दर्द हो जाएगा हमेशा के लिए गायब



राई का इस्तेमाल खाने के साथ-साथ आचार बनाने में भी किया जाता है जिससे खाने का मज़ा दुगना हो जाता है। राई में कई तरह के औषधियों गुण पाए जाते है जो हमारे शरीर में होने वाली तरह-तरह की हेल्थ समस्या से बचाने के लिए काफी है। 

राई कान दर्द से लेकर जोड़ो के दर्द तक का खात्मा बड़ी आसानी से कर सकती है। तो चलिए जान लेते है कि राई का उपयोग कैसे किया जाए

राई के चमत्कारिक फायदे


1.कान दर्द में फायदेमंद- अगर आप कान दर्द से परेशान है तो आप जैतून के तेल में इस तेल को मिलाकर 2 या 3 बूंदें रोजाना अपने कानों में डाले कैसे भी दर्द होगा जाता रहेगा।

2.फोड़े-फुंसी कि समस्या- अगर आप फोड़े-फुंसी कि समस्या से परेशान है तो आप राई के तेल को अपने सिर में लगाये कुछ ही दिन में शिकायत दूर हो जायेग।

3.काले होंठ का निवारण- अगर धूम्रपान या किसी और कारणवश आपके होंठ काले पड़ गए है तो आपको रोजाना राई का लेप अपने होंठो पर लगाना चाहिए जिससे आपके होंठ का कालापन कुछ ही दिन में दूर हो जाएग।

4.कुष्ठ रोग में है लाभदायक- कुष्ठ रोग से पीडित व्यक्ति को थोड़ी सी राई पीसकर उसके आटे को गाय के दूध में मिलाकर लगायें कुछ ही दिन में इस रोग से छुटकारा मिल जाएगा।

5.जोड़ों के दर्द में है असरकारक- खासकर घुटनों में दर्द की समस्या बुजुर्ग लोगो में ज्यादा देखने को मिलती है अगर आप भी इनमे से एक है तो आप राई को पीसकर इसमें थोडा सा कपूर मिलाकर रोजाना अपने घुटनों की मालिश करें। कुछ ही दिन में आपके घुटने का दर्द गायब हो जाएगा।

Powered by Blogger.