आपको पता है आखिर क्यों दीवाली पर खेला जाता है जुआ, जानिए

दीपावली त्यौहार आने का इंतजार सब लोग बड़ी बेसब्री से करते है। दीवाली आने से पिहले घर की साफ-सफाई और सजावट पर लोग विशेष ध्यान देते है। बच्चे पटाके फोड़ते है और खुशियाँ मनाते है लेकिन कुछ लोग दीवाली पर जुआ खेलने की आदत को नही भूलते।  जाने किस उम्र में सबसे ज्यादा बनाते है लोग शारीरिक सम्बन्ध

जान लेते है आखिर क्यों दीवाली पर खेला जाता है जुआ-

deewali par kyo khela jaata hai jua


लोगो का मानना है-
कुछ लोगो का मानना है कि दीवाली पर जुआ खेलने से लक्ष्मी माता प्रसन्न होती है। आपको बता दें कि यह प्रथा सदियों से चली आ रही है।

deewali par kyu khela jata hai jua


जुआ खेलने का राज-
कुछ लोगो का कहना है कि सदियों पिहले दीवाली के दिन भगवान शंकर और पार्वती जी ने जुआ खेला था। तभी से जुआ खेलने की परंपरा इस त्यौहार के साथ जुड़ गयी जो आज तक चली आ रही है। हालांकि ग्रंथों में कही पर भी इसका जिक्र नही है लेकिन फिर भी लोग दीपावली पर जुआ खेलते है।

deewali par kyo log khelte hai jua

अंधविश्वास-
आपको बता दें कि, ऐसा कुछ भी नही है ये सिर्फ अंधविश्वास है। सच तो यह है कि दीवाली पर जुआ खेलने से लोग अपने ही घर की लक्ष्मी को नाराज़ करते है इसके अलावा दीवाली ही नही, लोगो को कभी भी जुआ जैसा खेल नही खेलना चाहिए फिर भी कई जगहों पर दीवाली के दिन जुआ खेला जाता है। जुआ खेलने से घर की सुख शांति के साथ-साथ घर की लक्ष्मी भी चली जाती है।

Powered by Blogger.